ग्वार ,सरसो में तेजी देखिए आज के ताजा मंडी भाव

जानिए आज के ताजा मण्डी भाव

आज के ताज़ा मण्डी भाव

जनरल मर्चेंट एंड कमीशन एजेंट नोखा (बीकानेर)*

*10/05/2021*

*🌿मोठ बोल्ड🌿*
*6000-6850 Extra bold

*🌿मूंग🌿*
6000-6700

*🌿ग्वार🌿*
3800/4025

*🌿चना नया🌿*
5100/5320

*🌿 मेथी पुरानी 🌿*
4800/5200

*🌿मेथी नई 🌿*

5800/6000

मेथा 6000 से 6300

*🌿नया जीरा 🌿*
11500/12500

*🌿इसबगुल नया🌿* 9000/10200

(ज्यादातर माल 9100 से 9500)तक बिक रहा है ।

*🌿काला तिल🌿* 7500/7600

*🌿कणक🌿*
1650/1950

*🌿रायडा सरसो नया 🌿*
5700/6200

*🌿मतीरा बीज🌿* 4000/4300

*🌿काकड़िया बीज🌿* 7000/7700

*🌿जौ🌿*
1350 से 1450

🔈तारामीरा 5000 से 5150🔈

कल नोखा कृषि उपज मंडी आने वाले किसानों से निवेदन है कि कृपया करके वह सुबह 6:00 बजे से लेकर 11:00 बजे तक मंडी परिसर गेट तक आ जाए उसके बाद आने वाले वाहन को मंडी परिसर में आने की इजाजत नहीं दी जाएगी ।

10/05/2021
*दलहन भाव्यिष*

*तुअर: आने वाले दिनों में माल की शॉर्टेज बनने लगेगी विदेशों से अभी बड़े मात्रा में तुअर आयात संभव नहीं दूसरी ओर चेन्नई में याचिका दायर होने से नया माल निकट भविष्य में आने वाला नहीं है वहीं दाल मिलों की मांग नीचे भाव में निकलने लगी है यही कारण है कि बाजार थोड़ा सुधर गया है तथा इस भाव में भी कोई रिस्क नहीं है। जैसे जैसे तुअर दाल में मांग निकलेगी तुअर के दाम में यहां से सुधार दिखने को मिलेगा जबकि मांग में सुधार होते ही जल्द200/300 रूपये की तेजी देखे को मिल सकता है*

*देसी चना: अधिकतर स्टॉकिस्ट फिलहाल निचे भाव में चना बेचने के मूड में नहीं चना में अभी आने वाले समय में उठापठक रह सकती है गिरावट पर खरीदी करने की सलाह उम्मीद है जून,जुलाई तक देसी चना धीरे धीरे तेजी कायम देसी चने की आवक पूरी तरह ठंडी पड़ गई है मध्य प्रदेश की अन्य उत्पादक मंडियों से लिवाली चलने से वहां से भी दिल्ली के पड़ते में माल नहीं आ रहा है केवल वायदा बाजार अपनी मनोपली से बढ़ने नहीं दे रहा है सटोरियों ने बढ़े भाव में माल बेच दिए हैं उसकी डिलीवरी के लिए कुछ दिन तक बाजार को रोकेंगे लेकिन इसमें आगे अच्छी तेजी के आसार दिखाई दे रहे हैं।*

*काबुली: चने में आई पिछले दिनों की भारी तेजी के बाद लोकल व चालानी मांग पूरी तरह ठंडी पड़ गई है दूसरी ओर स्टॉकिस्ट भी अपना माल बेचने में लगे हुए हैं इन परिस्थितियों को देखते हुए कुछ दिनों के लिए तेजी समाप्त समझना चाहिए जानकार मानते हैं कि काबली चने की खपत के अनुरूप उपलब्धि किसी भी मंडी में नहीं है लेकिन लॉकडाउन एवं महामारी के चलते ट्रक भाड़े बढ़ गए हैं तथा आवागमन भी कम हो गया है बढ़िया माल बिकने बंद हो गए हैं इन परिस्थितियों में निकट में जायदा तेजी नहीं लग रही है।*

*मटर: मंदे का समीकरण बदला घरेलू उत्पादन अधिक होने से मटर में यह धारणा थी कि पूरे वर्ष लंबी नहीं आएगी वह अभी भी बनी हुई है लेकिन कनाडा से मटर के आयात पर रिस्ट्रिक्टेड प्रतिबंध लगने से कानपुर ललितपुर झांसी लाइन में एक बार फिर लिवाली आ गई है। यही कारण है कि देसी मालों में भी 100/150 रुपये प्रति क्विंटल की चाल आ गई है। विदेशी माल अभी आने वाले नहीं हैं तथा खपत के अनुरूप माल नहीं है क्योंकि हम मटर पर अभी आत्मनिर्भर नहीं है इन परिस्थितियों में आगे आने बाले एक दो महिनों मे अच्छी तेजी आ सकती हैं।*

*उड़द: अभी और बढ़ने के आसार उड़द में दाल मिलों की मांग निकलते ही तेजी के आसार दूसरी ओर चैन्नई में माल नही रहने से अधिकतर आयातक घटाकर माल बेचने से पीछे हट गये है। निकट भविष्य में बर्मा से भी कोई माल आने वाला नही है क्योकि कुछ कारोबारियों एवं मिलर्स द्वारा चैन्नई न्यायालय में आयात कोटे को रोकने से संबंध में आवेदन के बाद कोर्ट ने 28 जून,2021 तक स्टे-आर्डर दे दिया है। जिसके चलते आयातक भी ज्यादा माल नही बेच रहे है बाजार के जानकार मानते है कि यह भरपूर खपत का समय है इन सभी परिस्थितियों को देखते हुए अभी कीमतों में और सुधार की उम्मीद है।*

*मूंग: आवक की कमी में तेजी एमपी से लोडिंग कम होने लगी है तथा वहीं की लोकल दाल मिलों की मांग निकलने से 3 दिनों से उत्तर भारत की मंडियों में माल कम आ रहा है। कोविड-19 महामारी के चलते वहां लॉक डाउन चल रहा है जिससे ट्रक भाड़े भी काफी अनाप-शनाप बढ़ गए हैं इस वजह से यहां माल की कमी के चलते 3 दिनों में तेजी आ गई है तथा बाजार आज ठहर गया है अत बढ़े भाव में माल बेचना चाहिए लेकिन अभी माल की कमी रहेगी।*

*बाकी व्यापार अपने विवेक से करें*

One thought on “ग्वार ,सरसो में तेजी देखिए आज के ताजा मंडी भाव

  1. रोज भाव की लिस्ट जारी कर दिया करो

Comments are closed.